3 स्टेप में बनें क्रिकेट अंपायर | क्रिकेट अंपायर्स की सैलरी कितनी होती है?

Cricket Umpire Salary: सबसे विश्व प्रसिद्ध गेम्स को देखा जाए तो उनमें क्रिकेट भी एक खेल में से एक है। क्रिकेट के लोकप्रियता अब धीरे-धीरे विश्व प्रसिद्ध होते जा रही है। ऐसा नहीं है कि पहले क्रिकेट प्रसिद्ध नहीं था, लेकिन अभी के समय इसकी लोकप्रियता दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है। क्रिकेट को देखने वाले दशक पूरे विश्व में मौजूद है और अगर दर्शकों की दृष्टिकोण से देखा जाए तो भारत मैं सबसे अधिक क्रिकेट दर्शक पाए जाएंगे।

क्रिकेट से संबंधित आए दिन दर्शकों के मन में नए-नए सवाल उत्पन्न होते हैं, जैसे विश्व का सबसे अच्छा विकेटकीपर कौन है? इत्यादि। क्रिकेट में प्लेयर्स के अलावा एक और प्रमुख कैरेक्टर होता है जो अंपायर के रूप में फील्ड में मौजूद होते हैं। अंपायर की चर्चा मीडिया रिपोर्ट्स या फिर कहीं भी सबसे कम होती है, तो आज का हमारा यह रिपोर्ट अंपायर से संबंधित ही होगा।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि कैसे कोई अंपायर बन सकता है? (How to become a cricket umpire) और क्रिकेट अंपायर की सैलरी कितनी होती है? इसके अलावा भी अंपायर से जुड़े अन्य जानकारी को भी हम आपसे साझा करेंगे। तो पूरी जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढ़िए।

क्रिकेट अंपायर कैसे बने? (How to become a cricket umpire)

कई लोगों में ऐसा भ्रम होता है कि क्रिकेट अंपायर बनने के लिए इंटरनेशनल लेवल पर क्रिकेट खिलाड़ी होना जरूरी है। तो आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह बात बिल्कुल असत्य है। अगर कोई साधारण व्यक्ति भी क्रिकेट अंपायर बनना चाहता है तो वह आसानी से बन सकता है, इसके लिए क्रिकेट और उसके नियमों से संबंधित अच्छी जानकारी होनी चाहिए।

भारत में क्रिकेट अंपायर बनने के लिए अलग-अलग चरण होते हैं। सबसे पहले चरण में फिटनेस आता है क्योंकि एक क्रिकेट अंपायर को मैच शुरू होने के पहले से लेकर मैच अंत होने फील्ड में टिके रहना पड़ता है। इसीलिए यह जरूरी है कि आवेदक के पास अच्छी फिटनेस होनी चाहिए ताकि इस समय अंतराल के दौरान उनकी तबीयत ना बिगड़े।

इसके बाद शुरू होता है मुख्य चरण जिसमें क्रिकेट अंपायर बनने के लिए आवेदक को स्टेट संगठन लेवल पर अप्लाई करना पड़ता है। स्टेट संगठन लेवल (State Association Level) पर अप्लाई करने के लिए आवेदक के पास क्रिकेट के नियमों से संबंधित जानकारी एवं लोकल क्रिकेट मैचेस में अंपायरिंग करने का अनुभव होना चाहिए।

इसके बाद आवेदक के नॉलेज और टैलेंट के आधार पर उन्हें बीसीसीआई (BCCI) अंपायरिंग लेवल एग्जाम के लिए ट्रांसफर किया जाएगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड BCCI क्रिकेट अंपायर बनने के लिए अलग-अलग लेवल पर एग्जाम्स आयोजित करता है। आईये उन लेबल्स के बारे में विस्तार से जाने –

BCCI level 1 Umpire exam

बीसीसीआई की लेवल 1 परीक्षा भारतीय क्रिकेट बोर्ड द्वारा प्रत्येक वर्ष आयोजित की जाती है। जिसमें बहुत सारे आवेदक अप्लाई करते हैं, इस परीक्षा से पहले आवेदकों को तीन दिन की कोचिंग सुविधा दी जाती है। इसके बाद परीक्षा आयोजित की जाती है जिसमें परीक्षा में उत्तीर्ण आवेदकों को मेरिट लिस्ट के आधार पर अलग किया जाता है।

इसके बाद उत्तीर्ण आवेदकों को इंडक्शन कोर्स कराया जाता है जो की एक निश्चित समय अवधि में होती है। इस समय अवधि के दौरान उत्तीर्ण आवेदकों को क्रिकेट के नियमों से जुड़ी जानकारियां दी जाती है। इंडक्शन कोर्स संपन्न होने के बाद आवेदक प्रैक्टिकल और मौखिक एग्जाम देने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं।

BCCI level 2 Umpire exam

पहले चरण की तरह ही इसमें भी उत्तीर्ण आवेदकों को अलग किया जाता है जो की BCCI लेवल-2 एग्जाम के लिए योग्य हो जाते हैं। BCCI लेवल-2 परीक्षा में कैंडीडेट्स का मेडिकल टेस्ट कराया जाता है और मेडिकल टेस्ट में पास हो जाने पर आवेदकों को अंपायर बना दिया जाता है।

जो कैंडीडेट्स सभी परीक्षाओं को पास कर लेते हैं वह BCCI के घरेलू मैचों में अंपायरिंग करने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं। अगर घरेलु मैचों में अंपायर्स का अंपायरिंग रिकॉर्ड अच्छा होता है तो उन्हें आईसीसी (ICC) के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय मैचों में क्रिकेट अंपायर के रूप में चुना जाता है। इस प्रकार क्रिकेट अंपायर बनने के लिए विभिन्न चरणों से गुजरना पड़ता है।

क्रिकेट अंपायर की सैलरी कितनी होती है? (Cricket Umpire Salary)

क्रिकेट अंपायर की सैलरी कितनी होती है इस बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है। लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो घरेलू मैचों के लिए A-Grade अंपायर्स को 40,000 रूपये तक प्रति मैच के हिसाब से सैलरी दी जाती है। तो वहीं घरेलू मैचों के लिए ही B-ग्रेड अंपायर्स को 30,000 रूपये प्रति मैच के हिसाब से सैलरी दी जाती है।

वहीं अंतराष्ट्रीय लेवल पर ICC Elite पैनल अंपायर की सैलरी की बात करें तो उन्हें 1.5 लाख रुपए से लेकर 2.5 लाख रुपए प्रति मैच के हिसाब से सैलरी दी जाती है। ICC Elite पैनल अंपायर बनने के लिए घरेलू मैचों में अच्छा ट्रैक रिकार्ड होना जरूरी है।

GradeSalary Per Match
ICC Elite Panel Umpire ₹ 1.5-2.5 Lakh
A Grade Umpire ₹40,000
B Grade Umpire ₹30,000

निष्कर्ष (Conclusion)

इस प्रकार अगर आप क्रिकेट से जुड़ी अच्छी जानकारी रखते हैं लेकिन क्रिकेटर नहीं बनना चाहते हैं तो अपने करियर के रूप में अंपायरिंग को चुन सकते हैं। इससे आप क्रिकेट से भी जुड़े रह सकते हैं और आपको एक बेहतरीन करियर ऑप्शन भी मिल सकता है। इस पूरे आर्टिकल में अपने जाना कि कैसे क्रिकेट अंपायर बन सकते हैं? (How to become a cricket umpire) और क्रिकेट अंपायर की सैलरी कितनी होती है?

हम पूरी तरह से आशा करते हैं कि आपको इस लेख में पूरी जानकारी मिली होगी। इस लेख में सैलरी से जुड़ी जानकारी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार दी गई है क्योंकि इससे संबंधित कोई आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं है।

नमस्ते! मेरा नाम अंकित आनंद है और मैं एक न्यूज़ रिपोर्टर हूं। मैंने इस क्षेत्र में 3 साल से ज्यादा का अनुभव हासिल किया है। मेरा प्रमुख क्षेत्र क्रिकेट और अन्य खेल हैं। मुझे खेलों से जुड़ी हर ताजा खबर और घटना आत्मसात करती है, और मैं इसे लोगों के साथ साझा करने के लिए उत्सुक रहता हूं। मै आशा करता हूं कि आपको मेरी रिपोर्टिंग को अच्छी लगेगी। धन्यवाद!